Friday, September 3, 2010

सिनेमा- सिनेमा : सोनाक्षी सिन्हा

अपनी दबंग 'बिहारन' - सोनाक्षी सिन्हा ! वक्त कैसे गुजर जाता है - पता ही नहीं चलता ! अभी हाल फिलहाल तक तो मै 'फ़िल्मी मैग्जीन' में शॉटगन सिन्हा को पढता था - कैसे वो ट्रेन में 'आठवीं की छात्रा 'पूनम' से मिले थे , कैसे सिनेमा में एंट्री मिला और कालीचरण , विश्वनाथ , दोस्ताना , शान , क्रांति और न जाने कितने ...! और अब देखिये तो बेटी सिनेमा में आ गयी :) अब बहुत मुश्किल है उसको इग्नोर करना ..जब भी टी वी या इन्टरनेट पर उसको देखता हूँ - एक अलग एहसास होता है - 'पटना की है' - भगवान इसकी सिनेमा हिट कर देना ! अन्जान सा सम्बन्ध जिसकी डोर अनचाहे 'क्षेत्रवाद' पर टिकी है - पर डोर मजबूत है !
स्कूल में पढता था ..कई दोस्त ऐसे होते जिनके ये सम्बन्धी होते थे - मुझे ये विश्वास नहीं होता - मालूम नहीं क्यों ! कई दोस्त ऐसे होते थे की 'सम्बन्ध' जोडने में बेजोड ! हम आज तक ऐसा सम्बन्ध नहीं जोड़ पाए :(
कितने बिहारी हिंदी सिनेमा इंडस्ट्री में थे य है ये नहीं पता पर कुछ नाम याद है - कुमुद चुगानी , कुमकुम , शत्रु जी , अपने शेखर सुमन और नीतू ! शेखर सुमन का घर हमारे स्कूल के पास होता था सो उनसे एक अलग तरह का लगाव है - उनकी एक सीरियल आती थी - "वाह जनाब ! " - संडे को ! कभी मिस नहीं किया !
सुना है - सोनाक्षी बहुत मोटी थी - वजन कम कर के खुद को मॉडल बनाया ! पिछले साल जब वो लक्मे फैशन शो में आयीं तो मैंने "बिहार टूडे" पर प्रमुख खबर के रूप में छापा था ! अछ्छा लगा था और आश्चर्य भी !
"दबंग" में वो गाँव की घरेलु लडकी के रूप में आयेंगी - बस यह छाप ना रह जाए - कुछ अलग किरदार में रूप में भी वो नज़र आयें - हम सब यही चाहेंगे ! अपने से २२ -२३ साल बड़े कलाकार के साथ काम करना आसान नहीं है - अब इसको 'सोनाक्षी' ने कितना आसान बनाया है - यह परदे पर ही नज़र आएगा !

आगे वो 'बोनी कपूर' के बेटे 'अर्जुन' के साथ भी नज़र आयेंगी !

कुछ का कहना है - सोनाक्षी को देख 'रीना रॉय' की याद आती है :) - फिलहाल हम चुप रहेंगे :)
रंजन ऋतुराज सिंह - इंदिरापुरम !

4 comments:

Sarvesh said...

Sonakshi ke baare me jaankari dene ke liye shukriya. I wish she to be a super herione of bollywood and do some bhojpuri movies as well.

PD said...

तो अब क्या कहते हैं इसके बारे में? सिनेमा तो आ भी गई और हिट भी हो गई.. :)

rashmi singh said...

Bihar ki miiti ki khubu, insaan ke vyaktitva ko andruni nikhar deta hai-aur woh sonaxi mein hai-bold and beautiful:)

Ram N Kumar said...

रंजन भैया सोनाक्षी बला कि खूबसूरत, चंचल मन और सोख अदाकारा है...
विचारों में शॉटगन को पीछे छोर चुकी है और शायद आपके ऊपर गई है! हाहहाहा